Sat. Jun 15th, 2024

गोगामेड़ी हत्याकांड पर राजस्थान में 15 जगह NIA के छापे:पिलानी से लॉरेंस गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, हरियाणा में भी 10 जगहों पर रेड

 

*जयपुर* के झोटवाड़ा में शूटर रोहित राठौड़ के घर के बाहर मौजूद पुलिसकर्मी।

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड की जांच कर रही नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) की टीमें सुबह से राजस्थान और हरियाणा में छापेमारी की। शूटर रोहित राठौड़ और नितिन फौजी से मिले इनपुट के बाद NIA ने छापेमारी का प्लान तैयार किया गया था।

 

अधिकारियों को उम्मीद है कि हत्याकांड के पीछे कुछ और लोग भी हैं, जो जांच के दौरान सामने आए हैं। इन दोनों शूटरों का प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से उन लोगों के साथ संपर्क रहा है। जानकारी के अनुसार NIA के पास में एक दूसरी स्टोरी है, जो इस हत्याकांड में कई चौंकाने वाले खुलासे कर सकती है।

 

इधर, एनआईए, डीएसटी, चेन्नई और दिल्ली पुलिस की टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध हथियारों की सप्लाई में लिप्त लॉरेंस विश्नोई गैंग के एक गुर्गे को राजस्थान के पिलानी से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम अशोक मेघवाल बताया जा रहा है, जिसे उसके गांव झेरली से पकड़ा गया है। आरोपी के पास से 8 हथियार जब्त किए गए हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार 30 से ज्यादा हथियार आरोपी सप्लाई कर चुका है। पुलिस आरोपी अशोक से मामले को लेकर पूछताछ कर रही है।

 

बदमाशों ने 5 दिसंबर को सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को घर में घुसकर गोलियां मारी थीं और फिर फरार हो गए थे।

बदमाशों ने 5 दिसंबर को सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को घर में घुसकर गोलियां मारी थीं और फिर फरार हो गए थे।

गोगामेड़ी को गोली मारने वाले शूटर का घर सीज

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के मामले में बुधवार सुबह एनआईए की टीम मकराना पहुंची। टीम ने मकराना पुलिस के साथ जूसरी गांव जाकर गोगामेड़ी की हत्या के आरोपी शूटर रोहित राठौड़ के घर की तलाशी ली और घर को सील कर दिया। रोहित और उसका परिवार पिछले 30 सालों से जयपुर में ही रह रहा था। हाल ही में रोहित के मकान पर बुलडोजर चलाया गया था।

 

रोहित का पैतृक गांव जूसरी होने के कारण वह और उसके परिवार के लोग गांव में परिचितों के होने वाले शादी ब्याह या अन्य कार्यक्रमों में शामिल होते रहे हैं, लेकिन उसका पैतृक मकान सालों से बंद पड़ा है। मकान में घास उगी हुई है। एनआईए टीम ने मकान की तलाशी ली और आसपास के लोगों से भी पूछताछ की। बाद में टीम ने घर पर ताला लगाकर उसे सील कर दिया। पूरी कार्रवाई के दौरान मकराना थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह कमांडो और पुलिस बल भी मौजूद रहा। इसके बाद एनआईए की टीम वापस जयपुर के लिए निकल गई।

  • हरियाणा-राजस्थान में 25 जगहों पर छापेमारी

आज सुबह करीब 5 बजे से NIA की टीमें एक्टिव हुई और बताई गई लोकेशन पर पहुंचकर छापेमारी शुरू की। जानकारी के अनुसार राजस्थान में 3 जिलों में कार्रवाई हुई। इसमें कुछ बड़े नाम भी हैं, जिनके यहां पर टीमें पहुंची है। राजस्थान में कुल 15 जगहों पर छापेमारी की जानकारी सामने आई है।

 

जयपुर में कार्रवाई दौरान एनआईए की टीम ने शूटर रोहित राठौड़ की मां और बहन से भी पूछताछ की है। जयपुर के साथ टोंक में भी एनआईए की टीम पहुंची। यहां एक और आरोपी पूजा सैनी के परिजनों से पूछताछ की गई। इसके अलावा झुंझुनूं में ईडी की टीम पहुंची। इसी केस में हरियाणा में 10 जगहों पर NIA ने रेड की है।

कुछ और बड़ी गिरफ्तारी होने की संभावना NIA ने अजमेर जेल में बंद सभी सातों बदमाशों से पूछताछ की, उसमें कुछ अहम जानकारी NIA के हाथ लगी है। इसमें हथियारों की सप्लाई, आने वाले दिनों में किसे टारगेट किया जाने वाला था, हत्याकांड से पहले दोनों शूटर जयपुर में और जयपुर के आसपास किन-किन लोगों से मिले, जिन लोगों से मिले वह किन लोगों के संपर्क में थे। दोनों शूटरों को सहयोग कर बरगलाने वाले लोगों तक NIA की जांच जाने वाली है। NIA की एकाएक छापेमारी से राजस्थान और हरियाणा में बड़ी गिरफ्तारी होने की संभावना बढ़ गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *